बीकानेर – अलमारी की चाबी बनाने आया था, लॉकर ही साफ कर गया!

42

डीएनआर रिपोर्टर. बीकानेर

अलमारी की चाबी बनाने आए दो व्यक्तियों ने हाथ की सफाई दिखाते हुए लॉकर में रखी सोने की रखड़ी व बीस हजार रुपए उड़ा दिए। इस आशय का आरोप लगाते हुए जयनारायण व्यास कॉलोनी थाने में मामला दर्ज कराया गया है। मजे की बात यह है कि अलमारी की चाबी बनवाने के दो महीने बाद मकान मालिक को पता चला कि अलमारी में रखा सोने का सामान व नगदी गायब है। अब इस मामले में उस अज्ञात व्यक्ति पर आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया गया है, जिसने नकली चाबी बनाई थी। प्राथमिकी में कहा गया है कि अलमारी का लीवर व चाबी बदलने के बाद व्यक्ति चला गया। काफी समय बाद मालिक ने अलमारी का लॉकर खोला, तो होश उड़ गए। अलमारी में रखी सोने की रखड़ी व बीस हजार रुपए गायब मिले। इस संबंध मे जयनारायण व्यास कॉलोनी निवासी हेतराम विश्नोई ने दो अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ चोरी का मामला दर्ज कराया है। घटना दो माह पुरानी बताई जा रही है। मामले में बताया कि ८ फरवरी को अलमारी की चाबी बनाने के लिए दो जने उसके घर आए। उन्होंने अलमारी का लिवर बदलकर दूसरी चाबी बनाई और चले गए।

बाद में देखा, लॉकर में कुछ नहीं है

इस दौरान आरोपी लॉकर खोलकर उसमें से सोने का आभूषण व नकदी ले गए। जयनारायण व्यास कॉलौनी पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच सहायक उपनिरीक्षक ओमप्रकाश सियाग को सौंपी है।

अज्ञात व्यक्ति का भरोसा कैसा?

किसी के घर में आलमारी व अन्य सामान पर लगे ताले की चाबी खोने पर अज्ञात व्यक्ति से ताला खुलवा लिया जाता है। इस मामले में अभी तय नहीं है कि चोरी किसने की है, लेकिन आरोप चाबी बनाने वाले पर लगाया गया है। सवाल यह खड़ा होता है कि चाबी बनाते वक्त मकान मालिक ने लापरवाही क्यों बरती और उनके भरोसे अलमारी छोड़कर चले क्यों गए?

ढूंढना है चुनौती

पुलिस के लिए अब यह चुनौती है कि वो उन चाबी बनाने वालों को कैसे ढूंढे। हालांकि हुलिए के आधार पर पुलिस शहरभर में चाबी बनाने वाले लोगों की धरपकड़ कर रही है लेकिन प्रथम दृष्टया पुलिस के हाथ कुछ खास नहीं लगा है। इस मामले में कार्रवाई आगे की जा
रही है।