बीकानेर में पहली बार हुआ ऑपरेशन, मरीज को खर्राटे आने बंद हुए

276

बीकानेर। खर्राटों की परेशानी से झूझ रहे बीकानेर के लोगों के लिए राहत की खबर है। सर्जरी करने वाले कोठारी हॉस्पिटल के डा. पुष्पेन्द्र सिंह शेखावत का दावा है कि ढाई घंटे लंबे ऑपरेशन के बाद रोगी अब ठीक है। डा. शेखावत के मुताबिक, गंभीर खर्राटों से पीडि़त नोहर के सागरराम को मशीन पर सुलाकर स्लीप स्टडी की गई तो पता चला कि नींद के दौरान श्वांस में रुकावट आती है यानी ऑब्सिट्रक्टिव स्लीप एप्निया है। इसका पुख्ता इलाज यूपीपीपी सर्जरी है। बीकानेर में पहली बार यह सर्जरी करने का निर्णय लिया और ऑपरेशन में कॉब्लेशन मशीन का उपयोग किया। इस मशीन का उपयोग करने से खून कम बहता है और दर्द भी कम होता है। ऑपरेशन के बाद एक सप्ताह तक मरीज को भर्ती कर ऑब्जर्व किया। खर्राटे बंद होने की पुष्टि के साथ अब छुट्टी दी गई है। हॉस्पिटल सुपरिटेंडेंट डा. ओपी श्रीवास्तव का कहना है, अब ऐसे से ऑपरेशन नियमित होते रहेंगे जिससे बीकानेर संभाग के मरीजों को कहीं बाहर नहीं जाना पड़े।