झालावाड़ ट्रेन तीन दिन ही चलती है, ऐसे समझें

बीेकानेर। श्रीगंगानगर से कोटा के बीच चलने वाली गाड़ी को झालावाड़ तक विस्तारित किया गया है, लेकिन लोगों को अभी भी भ्रम बना हुआ है। गत 11 मार्च को गाड़ी संख्या 22981-22982 कोटा-श्रीगंगानगर-कोटा सुपर फास्ट एक्सप्रेस को तीन दिन के लिए झालावाड़ तक विस्तारित किया गया। यह गाड़ी तीन दिन तक कोटा और झालावाड़ के बीच संचालित भी की जा रही है। लेकिन रेलवे की वेबसाइट पर श्रीगंगानगर से झालावाड़ तक पूरे सप्ताह के सातों दिन इस ट्रेन का चलना दिखाया जा रहा है, अर्थात यदि आप रेलवे की वेबसाइट पर कोटा से झालावाड़ के बीच ट्रेन सर्च करोगे तो गाड़ी संख्या 22982 और गाड़ी संख्या 22998 दर्शाया जाएगा। इस वेबसाइट पर संख्या 22982 प्रतिदिन तथा गाड़ी संख्या 22998 सप्ताह में तीन दिन चलना दिखाया गया है। यह गलत है। इसी गलती के कारण यात्री भ्रमित हो रहे हैं।
हकीकत यह है
इस भ्रम के कारण आए दिन रेल आरक्षण कार्यालय पर लोगों की बहस हो रही है। असल में श्रीगंगानगर-कोटा सुपर फास्ट एक्सप्रेस का गत 11 मार्च को विस्तार किया गया। रेलवे की ओर से जारी आदेशों में कहा गया कि गाड़ी संख्या 22981-22982 कोटा-श्रीगंगानगर सुपर फास्ट एक्स्प्रेस अब तीन दिन तक बदले हुए नम्बरों से चलेगी। इस आदेश के बाद रेलवे के सेन्टर फॉर रेलवे इन्फॉर्मेशन सिस्टम ने नए नम्बर 22998 से कोटा-झालावाड़ एक्सप्रेस गाड़ी को कम्प्यूटर में फायर कर दी। लेकिन यह गाड़ी नए टाइम टेबल में आगामी जुलाई माह से चलेगी। फिलहाल गाड़ी संख्या 22981-22982 कोटा-श्रीगंगानगर सुपर फास्ट एक्सप्रेस ही तीन दिन तक झालावाड़ तक जा रही है। आम लोगों को गाड़ी संख्या 22998 भी वेबसाइट पर दिखाई देती है लेकिन यह गाड़ी हकीकत में आगामी 12 जुलाई से ही चलेगी।
ये है टाइम-टेबल
यह गाड़ी झालावाड़ सिटी से दोपहर 15.25 बजे रवाना होकर 15.53 बजे रामगंजमण्डी,16.48 बजे डकनिया तालाब और 17.05 बजे कोटा पहुंचेगी। वापसी में यह गाड़ी गाड़ी कोटा से सुबह 9.55 बजे रवाना होकर सुबह 10.08 बजे डकनिया तालाब, 11 बजे रामगंज मण्डी और 11.55 बजे झालावाड़ सिटी पहुंचेगी। झालावाड़ में वाशिंग लाइन नहीं होने से डिमांड के बावजूद इसे शुरू नहीं किया जा रहा था। अब यह ट्रेन शुरू होने से लोगों को सवाई माधोपुर, कोटा, जयपुर, मेड़तारोड़,नोखा, नागौर, बीकानेर, हनुमानगढ़ और श्रीगंगानगर की ट्रेन पकडऩे के लिए कोटा नहीं जाना पड़ेगा। यात्री डकनिया तालाब, रामगंज मण्डी से भी ये रेलगाड़ी पकड़ सकेंगे।