गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, राजस्थान में तंबाकू-निकोटिन मिश्रित पान मसालों पर लगा प्रतिबंध

3162

जयपुर। महात्मा की 150वीं जयंती के मौके पर राज्य की गहलोत सरकार ने एक बड़ा कदम उठाया है। सरकार ने अब प्रदेश में मैग्निशियम कार्बोनेट निकोटिन तम्बाकू, मिनरल ऑयल युक्त पान मसाला और फ्लेवर्ड सुपारी के उत्पादन, भंडारण, वितरण पर रोक लगा दी है। इसकी घोषणा चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने की है। इसके लिए गजट नोटिफिकेशन सार्वजनिक किया गया है। सरकार ने इनको खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत प्रतिबंधित किया है। चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कहा कि खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत ऐसे सभी उत्पादों पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। उन्होंने कहा कि युवाओं में नशे की लत को रोकने के लिए यह महत्वपूर्ण कदम उठाया गया है। महाराष्ट्र, बिहार के बाद राजस्थान देश का ऐसा तीसरा राज्य बन गया है, जहां इन उत्पादों पर पूर्ण प्रतिबंध है। उन्होंने कहा कि ऐसी घटिया सामग्री की बिक्री को नियंत्रित कर, चोरी के माल की बिक्री पर सख्ती बरतते हुए पूरी तरह से रोक लगाने की कार्य योजना बनाई जा रही है। गौरतलब है कि इससे पूर्व सरकार ने ई-सिगरेट और संचालित हो रहे हुक्का बारों पर भी प्रतिबंध लगा रखा है।