अलवर दुष्कर्म : विरोध प्रदर्शन के दौरान भाजपा नेता किरोड़ी लाल मीणा ने दी गिरफ्तारी

जयपुर। राजस्थान के अलवर जिले के थानागाजी में हुए सामूहिक दुष्कर्म मामले को लेकर बड़ी खबर है। आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद मामला अभी शांत नहीं हुआ है कि मामला फिर से गरमाता हुआ दिख रहा है। आज अलवर के नए पुलिस अधीक्षक को हटाने को लेकर जिला कलेक्ट्रेट पर बीजेपी नेता किरोड़ी लाल मीणा ने अपने सैंकड़ों समर्थकों के साथ विरोध प्रदर्शन किया। बीजेपी नेता डॉ. किरोड़ी लाल मीणा और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक हनुमान बेनीवाल का आरोप है कि नागौर में तैनाती के दौरान देशमुख परिस अनिल एक पुलिसकर्मी के परिवार की सामूहिक हत्या के मामले में संदिग्ध हैं। इसके बावजूद राज्य सरकार ने उनको अलवर जिले में तैनाती दी है। वहीं, किरोड़ी लाल मीणा ने मामले को लेकर अलवर जिला कलक्ट्रेट के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। दुष्कर्म मामले को लेकर बीजेपी नेता किरोड़ी लाल मीणा ने अपने समर्थकों के साथ पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर गिरफ्तारी दी। वहीं, इस दौरान किरोड़ी के साथ महिला समर्थक भी गिरफ्तारी देते हुए दिखी। हालांकि गिरफ्तारी के कुछ मिनट बाद उनको रूपबास स्थित जगन्नाथ जी मंदिर के सामने छोड़ा गया। गिरफ्तारी से दो कदम पहले किरोड़ी मीणा ने पत्रिका से बातचीत की इस दौरान उन्होंने दो मांगे रखी। किरोड़ी ने बयान देते हुए कहा कि जिन भी पुलिस वालों ने मुकदमा दर्ज करने में लापरवाही बरती है, जांच करने में, दलित महिला को परेशान किया है उन सब पुलिस वालों पर मुकदमा दर्ज हो और पूरे प्रकरण की सीबीआई जांच हो। किरोड़ी मीणा ने कहा कि हम चाहते हैं कि 14 तारीख तक दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो और गिरफ्तारी हो। मीणा ने चेतावनी दी अगर ऐसा नहीं होता है तो 14 तारीख को ही दौसा में ऐतिहासिक आंदोलन होगा

अधिक खबरों के लिए हमारा फेसबुक पेज लाईक करें…अधिक खबरों के लिए हमारा फेसबुक पेज लाईक करें…

https://www.facebook.com/pg/nationalrajasthan/posts/?ref=page_internal