जयपुर एयरपोर्ट पर पहली बार उतरा बोइंग 777, झुंझुनूं की बेटी ने संभाली कमान

121

जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर के सांगानेर हवाई अड्डे पर पहली बार बोइंग 777 विमान उतरा है। गर्व करने की बात यह है कि इस विमान को राजस्थान के झुंझुनूं के बड़ागांव की बेटी पारुल शेखावत ने ऑपरेट किया है। पारुल को राजस्थान की पहली महिला कॉमर्शियल पायलट होने का गौरव भी हासिल है। बता दें कि जयपुर एयरपोर्ट पर मार्च 2017 तक रनवे विस्तार से पहले कॉमर्शियल विमानों की लैंडिंग संभव ही नहीं थी। रनवे का विस्तार होने के बाद अभी तक कोई शेड्यूल्ड फ्लाइट बोइंग 777 विमान के रूप में जयपुर नहीं उतरी थी। गुरुवार रात को पहला मौका था जब जयपुर एयरपोर्ट पर बोइंग 777 उतरा। इस विमान से शुक्रवार दोपहर को 340 यात्री हज के मुकद्दस सफर पर रवाना हुए। वहीं रात 8 बजे एयर इंडिया के बोइंग 787 ड्रीमलाइनर विमान से 250 यात्री हज पर रवाना हुए। पायलट बेटी पारुल शेखावत पर पूरे राजस्थान को गर्व है। इनके पति भी एयर इंडिया में सीनियर पायलट हैं। पारुल बोइंग 777 विमान में बतौर कैप्टन तैनात थीं। पारुल बड़ागांव के डॉ. नरपत सिंह शेखावाटी की बड़ी बेटी हैं। डॉ. शेखावत सवाई मानसिंह अस्पताल के अधीक्षक पद से रिटायर्ड हैं। 420 यात्री कर सकते हैं सफर 18 जुलाई से शुरू हुईं हज की फ्लाइट्स अभी तक बोइंग 747 विमानों से हो रही थीं। बोइंग 747 डबल डेकर विमान है, जिसमें 420 यात्री सफर कर सकते हैं। इसमें 4 इंजन होते हैं। बोइंग 777 में 2 इंजन हैं। इसमें 340 यात्री सफर कर सकते हैं। अपने विशाल डैनों और लॉन्ग हॉल के कारण यह बोइंग 747 से भी बड़े आकार का है।